नीम के साथ जुड़े हैं ये बेमिसाल के औषधीय गुण - HEALTH IS WEALTH
नीम के साथ जुड़े हैं ये बेमिसाल के औषधीय गुण

नीम के साथ जुड़े हैं ये बेमिसाल के औषधीय गुण

नीम के पेड़ के साथ कई प्रकार के औषधीय गुण जुड़े हुए हैं। नीम की छाल, पत्ते, तेल और फल का प्रयोग कई तरह की औषधीय दवाईयों को बनाने में किया जाता है। नीम के औषधीय गुणों की वजह से ही इस पेड़ को आयुर्वेद में बेहद ही गुणकारी माना गया है। नीम का पेड़ भारत के हर राज्य में पाया जाता है और नीम का प्रयोग करके कई प्रकार के रोगों को सही किया जाता सकता है। तो आइए जानते हैं नीम के औषधीय गुणों के बारे में –

नीम  के पेड़ के साथ जुड़े हैं ये बेमिसाल के फायदे

रक्त को करे शुद्ध

रक्त यानी खुन को शुद्ध करने में नीम काफी सहायक साबित होता है। खून शुद्ध ना होने से चेहरे पर मुंहास हो जाते हैं। इसलिए जिन लोगों का खून साफ नहीं है वो लोग नीम के पत्तों को खाया करें या  नीम के पत्तों का रस पीया करें। नीम के पत्तों का रस पीने से एक हफ्ते के अंदर ही खून एकदम शुद्ध हो जाएगा और आपको मुंहासों से निजात मिल जाएगी।

नीम का रस या जूस निकालने के लिए आप कुछ नीम के पत्तों को लेकर उन्हें अच्छे से पीस लें फिर इनमें पानी मिलाकर, इस पानी को छान लें। इस तरह से नीम का जूस बनकर तैयार हो जाएगा। आप हफ्ते में चार दिन इस जूस का सेवन करें।

मसूड़ों को बनाएं मजबूत

नीम के पत्ते और इसके तने से दातुन करना काफी लाभदायक होता है। नीम का प्रयोग कई तरह के टूथपेस्ट को बनाने में भी किया जाता है। दरअसल इसमें मौजूद औषधीय गुण मसूड़ों और दांतों को मजबूत बनाए रखते हैं। इसलिए जिन लोगों के मसूड़ों में दर्द रहता है या मुंह से बदबू आती है वो लोग नीम से दातून किया करें।

खुजली से मिले आराम

खुजली होने पर आप नीम के पानी से स्नान कर लें। नीम के पानी से नहाने से खुजली की समस्या से राहत मिल जाएगी। आप कुछ नीम की पत्तियों को लेकर उन्हें पानी में डालकर कर पानी को अच्छे से उबाल लें। फिर आप इस पानी से नीम की पत्तियों को निकाल दें और इस पानी को नहाने वाले पानी में मिला दें। रोज इस पानी से नहाने से आपको कई तरह के चर्म रोगों से भी निजात मिल जाएगी।

रूसी को करे गायब

नीम के औषधीय गुण बालों के लिए भी फायदेमंद होते हैं और नीम के पानी से बाल धोने से रूसी की समस्या एकदम सही हो जाती है। नीम का पेस्ट बालों पर लगाने से बालों में चमक भी आ जाती है और बाल मजबूत बने रहते हैं।

विषैले कीड़ों का असर करे खत्म

अगर आपको कोई कीड़ा काट ले तो कुछ नीम के पत्तों को लेकर उन्हें अच्छे से पीस लें और फिर इस लेप को उस स्थान पर लगा लें जहां पर कीड़े ने आपको काटा है। ऐसा करने से आपके शरीर में जहर नहीं फैल पाएगा।

चोट का घाव करे सही

चोट लगने पर आप चोट वाले स्थान पर नीम और जैतून के तेल का लेप लगा लें। इन दोनों चीजों को एक साथ लगाने से चोट का घाव जल्द ही भर जाएगा। आप बस थोड़े से नीम के पत्ते लेकर उन्हें पीस लें और इसमें जैतून का तेल मिला लें। फिर आप इस लेप को घाव वाले स्थान पर लगा लें।

सूजन करे कम

पैरों या हाथों में सूजन आने पर आप नीम के तेल से मालिश करें। नीम के तेल में मौजूद औषधीय गुण सूजन को तुरंत कम कर देते हैं। आप बस सूजन होने पर दिन में तीन बार हल्के हाथों से नीम के तेल की मालिश करें।

चेहरे को चमकाएं

चेहरे पर कील मुहांसे होने पर आप नीम का पेस्ट बनाकर उसे चेहरे पर लगा लें। नीम का पेस्ट चेहरे पर लगाने से कील मुहांसे एकदम सही हो जाएंगे। नीम के पेस्ट के अलावा नीम के तेल से चेहरे की मालिश करना भी लाभदायक होता है।

पेट के कीड़े करे खत्म

पेट में कीड़े होने पर आप नीम के पाउडर का सेवन पानी के साथ करें। नीम का पाउडर खाने से पेट के कीड़े खत्म हो जाएंगे और आपको कीड़ों की समस्या से निजात मिल जाएगी।

नीम के औषधीय गुणों की वजह से ही कई कंपनियों द्वारा नीम का प्रयोग साबून, शैंपू और इत्यादि चीजों को बनाने में किया जाता है। इतना ही नहीं कई कंपनियों द्वारा तो नीम का जूस और इसका पाउडर भी बेचा जाता है। इसलिए आपको आसानी से नीम का जूस या नीम का पाउडर दुकानों में मिल जाएगा।

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *