पायरिया होने पर आजमाएं ये घरेलू उपाय - HEALTH IS WEALTH
पायरिया होने पर आजमाएं ये घरेलू उपाय

पायरिया होने पर आजमाएं ये घरेलू उपाय

पायरिया एक प्रकार का रोग होता है जो कि दांतों से जुड़ा हुआ है। पायरिया होने पर मसूड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है और दांत कमजोर होने लग जाते हैं। पायरिया से ग्रस्त लोगों की दांतों की जड़े कमजोर हो जाती हैं और दांत ढीले होकर हिलने लग जाते हैं। कई बार मसूड़ों से खून भी निकलने लग जाता है और मुंह से दुर्गंध भी आने लग जाती है।

समय रहते हुए अगर पायरिया का इलाज ना करवाया जाए तो दांत कमजोर होकर गिरने लग जाते हैं। इसलिए ये बेहद ही जरूरी होता है कि पायरिया होने पर आप इसका इलाज तुरंत करवाएं। पायरिया के रोग को घरेलू उपचारों की मदद से भी सही किया जा सकता है। पायरिया होने पर अगर नीचे बताए गए घरेलू उपचारों को अपनाया जाए तो पायरिया तुरंत सही हो जाता है। तो आइए जानते हैं पायरिया के घरेलू उपाय –

पायरिया के घरेलू उपाय, जो मिनटों में दूर कर दे इस रोग को

नीम या बबूल से मंजन करें

पुराने समय में लोग नीम या बबूल की लकड़ी से दातून किया करते थे। जिसकी वजह से उन्हें दांतों से जुड़े रोग नहीं हुआ करते थे। आयुर्वेद में भी दांतों के लिए नीम और बबूल की लकड़ी को काफी गुणकारी बताया गया है। नीम की लकड़ी के अलावा नीम के पत्तों से भी अगर मंजन किया जाए तो दांत मजबूत बनें रहते हैं और इनकी रक्षा कई तरह के रोगों से होती है।

पायरिया के रोग में अगर नीम या बबूल की लकड़ी से दिन में दो बार दातुन या मंजन किया जाए तो पायरिया का रोग सही हो जाता है। इसलिए जो भी लोग पायरिया से ग्रस्त हैं वो लोग दिन में दो बार सुबह और रात के समय नीम या बबूल से दातुन करें। ऐसा करने से  तुरंत आराम मिल जाएगा।

सरसों का तेल

पायरिया के घरेलू उपाय अनेख हैं और पायरिया होने सरसों के तेल का प्रयोग करने से भी इस रोग से निजात पाई जा सकती है। पायरिया से ग्रस्त लोग थोड़ा सा नमक सरसों के तेल में मिला लें और फिर इसे अपने दांतों पर और मसूढ़ों पर लगाकर, इससे अच्छे से मालिश करें। दिन में दो बार सरसों के तेल और नमक से मालिश करने से पायरिया की तकलीफ से निजात मिल जाएगी।

जामुन की छाल

जामुन की छाल में कई ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो कि दांतों के लिए गुणकारी माने गए हैं। जामुन की छाल के काढ़े से कुल्ला करने से पायरिया के रोग को सही किया जा सकता है। पायरिया होने पर आप जामुन की छाल को लेकर उसे अच्छे से साफ कर लें। आप दो गिलास पानी गैस पर गर्म करने के लिए रख दें और इस पानी के अंदर जामुन की छाल डाल दें। अब आप इस पानी को अच्छे से उबाल लें और जब ये पानी आधा रहे जाए तो गैस को बंद कर दें। अब आप इस पानी को छान लें और थोड़ा ठंडा होने के बाद इस पानी से कुल्ला कर दें। जामुन की छाल के पानी से दिन में तीन बार कुल्ला करने से पायरिया का रोग सही हो जाएगा।

नीम का तेल

नीम का तेल दांतों और मसूड़ों के लिए काफी अच्छा माना जाता हैं और इस तेल को दांतों पर लगाने से दांत एकदम स्वास्थ्य बने रहते हैं। पायरिया होने पर अगर नीम का तेल दांतों पर लगाया जाए तो ये रोग मिनटों में सही हो जाता है। आप बस थोड़ा सा नीम का तेल एक रूई पर लगा दें और इस रुई को पायरिया ग्रस्त दांत पर 10 मिनट तक के लिए रख दें। दिन में दो बार इसी तरह से नीम का तेल अपने दांतों पर लगाते रहे।

फिटकरी से मंजन करें

फिटकरी को भी दांतों के लिए लाभप्रदा माना गया हैं और फिटकरी से कुल्ला करने से पायरिया से निजात पाई जा सकती है। पायरिया के इस घरेलू उपाय को आजमाने में पायरिया तुरंत सही हो जाएगा। आप बस फिटकरी को लेकर उसे पीस लें और फिर इसे अपने दांतों पर लगा लें।

त्रिफला चूर्ण

त्रिफला चूर्ण से मसूढ़ों पर मालिश करने से पायरिया का रोग एकदम सही हो जाता है। पायरिया होने पर आप त्रिफला चूर्ण लेकर उसमें थोड़ा सा पानी मिला दें और इस चूर्ण को दांतो पर लगा लें। इस चूर्ण से मालिश करने से पायरिया का रोग एकदम सही हो जाएगा।

करें इस मिश्रण से मालिश

पायरिया के घरेलू उपाय अनगिनत है और पायरिया होने पर आप इस उपाय को जरूर आजमाएं। इस घरेलू उपाय के तहत आप 5 ग्राम काली मिर्च , लौंग, अजवाइन 2 ग्राम, सूखा अदरक 5 ग्राम, कपूर 1 ग्राम और सेंधा नमक लेकर इन्हें अच्छे से पीस लें और पाउडर बना लें। फिर आप इस चूर्ण से अपने दांतों की मालिश दिन में दो बार करें। ये चूर्ण बेहद ही असरदार है और इसे लगाने से पायरिया का रोग एकदम सही हो जाएगा।

ऊपर बताए गए पायरिया के घरेलू उपायों को आप जरूर आजमाकर देंखें। इन उपायों को अजमाने से पायरिया का रोग एकदम सही हो जाएगा और पायरिया के रोग से आपको निजात मिल जाएगी।

पायरिया होने के कारण

– सही सें दांतों की सफाई ना करने से पायरिया का रोग हो जाता है।

– लि‍वर खराब होने का असर कई बार दांतों पर पड़ता है और इसके कारण दांतों में पायरिया का रोग लग जाता है।

– पान, गुटखा, तम्बाकू जैसी हानिकारण चीजे खाने से भी ये रोग लग जाता है।

– जो लोग भोजन को ठीक से चबाकर नहीं खातें हैं उन लोगों को पायरिया की समस्या हो जाती है।

– पेट में कब्ज रहने से भी पायरिया हो जाता है। इसलिए आप अपने पेट में कब्ज ना होेने दें और कब्ज होने पर तुरंत दवा लें।

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *