सलाद में कच्ची सब्जियां खाना क्यों फायदेमंद है? जानें एक्सपर्ट से - HEALTH IS WEALTH
सलाद में कच्ची सब्जियां खाना क्यों फायदेमंद है? जानें एक्सपर्ट से

सलाद में कच्ची सब्जियां खाना क्यों फायदेमंद है? जानें एक्सपर्ट से

रोजाना अपने खाने में रंगीन सब्जियां शामिल करनी चाहिए, वो भी कच्ची।

सेहतमंद रहने के लिए सब्जियों से बेहतर कोई दूसरा विकल्प नहीं हो सकता है।

कच्ची सब्जियों में शरीर को पोषण देने वाले सभी जरूरी पोषक तत्व होते हैं।

अक्सर डॉक्टर्स आपको खाने के साथ सलाद और कच्ची सब्जियां खाने की सलाह देते हैं। सेहतमंद रहने के लिए सब्जियों से बेहतर कोई दूसरा विकल्प नहीं हो सकता है। ताजी सब्जियों में ढेर सारे विटामिन्स, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं। सब्जियों और फलों में ऐसे तत्व प्राकृतिक रूप से मौजूद होते हैं, जो आपको सभी गंभीर बीमारियों जैसे- डायबिटीज, कैंसर, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा आदि से बचाते हैं। ऐसे आपको भी रोजाना अपने खाने में रंगीन सब्जियां शामिल करनी चाहिए, वो भी कच्ची।

क्या हैं कहते हैं एक्सपर्ट

सिद्धार्थनगर उत्तरप्रदेश के चिकित्साधिकारी डॉ. राम आशीष बताते हैं, “कच्ची सब्जियों में शरीर को पोषण देने वाले सभी जरूरी पोषक तत्व होते हैं। इनमें फाइबर की मात्रा भी भरपूर होती है इसलिए ये पेट के लिए फायदेमंद होते हैं। फाइबर होने के कारण कच्ची सब्जियां खाने से पेट भी जल्दी भर जाता है और आप ओवरईटिंग से बच जाते हैं। खीरा, ककड़ी, गाजर, पत्तागोभी, टमाटर, प्याज, लहसुन, अदरक, पालक, गोभी आदि सभी सब्जियों को अच्छी तरह धोकर और काटकर मिलाएं। अगर खा सकते हैं तो इन्हें बिना नमक के ही खाएं। अगर बिना नमक के नहीं खा सकते हैं, तो थोड़ी मात्रा में चाट मसाला या काला नमक डालकर खाएं।”

गहरे रंग की सब्जियों में होते हैं ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट्स

आमतौर पर जो सब्जियां गहरे रंग की होती हैं, उनका टेस्ट आपको खराब लगता है, जैसे- करेला, चुकंदर, शिमला मिर्च आदि। मगर एक्सपर्ट्स की मानें तो सब्जियां जितने ज्यादा गहरे रंग की होंगी, उनमें उतने ही ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। इसलिए गहरे रंग की सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें।

हरी सब्जियों में होता है फॉलेट

हरी सब्जियां खाने की सलाह हर कोई देता है। इसका कारण यह है कि हरी सब्जियों में फॉलेट, कैल्शियम, आयरन आदि तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। गर्भावस्था के दौरान इनका सेवन मां और होने वाले शिशु दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए अपने रोज के खाने में पालक, धनिया, मेथी, सरसों, साग आदि को शामिल करें।

पीले और नीले रंग की सब्जियों में पोषक तत्व

पीले रंग के सभी सब्जियों और फलों में भरपूर विटामिन सी होता है। इनमें कैरोटिनॉयड्स और विटामिन ए की मात्रा भी भरपूर होती है। पीले रंग के खाद्य पदार्थों में नींबू, अनानास, पीली शिमला मिर्च, और अंगूर शामिल हैं।  बैंगनी रंग की सब्जियों में एंथोक्यानिन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो बैक्टीरिया और संक्रमण को रोकता है। इनमें बैंगन, प्याज, काला अंगूर, चुकंदर, जामुन, काली गाजर, शहतूत, फालसा, ब्लूबेरीज, नीली पत्ता गोभी, नीली फूल गोभी आदि हैं।

source : onlymyhealth

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *