सुबह का नाश्ता स्किप करना बन सकता है आपकी जान के लिए खतरा - HEALTH IS WEALTH
सुबह का नाश्ता स्किप करना बन सकता है आपकी जान के लिए खतरा

सुबह का नाश्ता स्किप करना बन सकता है आपकी जान के लिए खतरा

सुबह-सुबह उठने और ऑफिस के लिए लेट ना हो इसके लिए ना जाने कितने ही लोग हैं जो घर से बिना ब्रेकफास्ट किए ही निकल जाते हैं। जिसके बाद सीधा लंच और फिर लेट नाइट डिनर। ऐसा दिनचर्या ना जाने कितने ही लोगों की है। जो दिन का ब्रेकफास्ट स्किप करते हैं और रात को देर रात से खाना खाते हैं। अगर आप भी ऐसा ही करते हैं तो थोड़ा सावधान हो जाइए क्योंकि ऐसा करना आपकी जान के लिए खतरा साबित हो सकता है। हाल ही में हुए एक शोध में इस बात का खुलासा किया गया है कि सुबह का नाश्ता ना करने से दिल की बीमारियों का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

बता दें कि प्रिवेन्टिव कार्डियॉलजी के यूरोपीय जर्नल ‘द फाइंडिग्स’ में छपे शोध पत्र में बताया गया है कि जो लोग इस तरह की जीवनशैली जीते हैं उनकी मौत की संभावना समय से पहले 4 से 5 गुना ज्यादा बढ़ जाती है। साथ ही इन लोगों में दिल का दौरा पड़ने का खतरा भी आम लोगों से कई गुना ज्यादा बढ़ जाता है। इस शोध के सह-लेखक ब्राजील के साउ-पाउलो सरकारी विश्वविद्यालय के मार्कोस मिनीकुची का कहना है, ‘हमारे शोध के नतीजों से पता चलता है कि खाना खाने के गलत तरीके को जारी रखने का नतीजा बहुत खराब हो सकता है, खासतौर से दिल के दौरे के बाद।’ 

113 मरीजों पर की गई रिसर्च

मिनीकुची ने बताया कि यह शोध उन लोगों पर किया गया जो दिल के दौरे के शिकार थे। ऐसे कुल 113 मरीजों पर ये शोध किया गया, जिनकी उम्र लगभग 60 साल तक थी, जिनमें से 73 प्रतिशत पुरूष थे। जिनमें 58 प्रतिशत पुरूष वो थे जो नाश्ता नहीं करते थे। वहीं 51 प्रतिशत मरीज ऐसे थे जो देर रात को भोजन करते थे और 48 प्रतिशत मरीज ऐसे थे जिनमें ये दोनों ही आदते पाई गई।

ब्रेकफस्ट में डेयरी, कार्ब्स और फ्रूट्स खाएं

वैसे तो डॉक्टर भी यही सलाह देते हैं कि सुबह का ब्रेकफास्ट हेल्दी और हैवी होना चाहिए। इसके साथ ही लंच भले ही आप रात को हल्का खाना खाए लेकिन दिन की दो डाइट यानि की लंच और ब्रेकफास्ट अच्छे से करना चाहिए। बता दें कि रात के खाने और सोने के बीच नें तकरीबन 2 घंटे का गैप होना चाहिए। शोध करने वाली टीम ने कहा, ‘एक अच्छे नाश्ते में ज्यादातर फैट फ्री या लो फैट डेयरी प्रॉडक्ट्स जैसे दूध, दही और पनीर, कार्बोहाइड्रेट जैसे गेंहू की रोटी, सेंके हुए ब्रेड, अनाज और फलों को शामिल करना चाहिए।’ 

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *