सोते समय क्यों गिरती है मुंह से लार ? जानिए इसे रोकने के सटीक उपाय - HEALTH IS WEALTH
सोते समय क्यों गिरती है मुंह से लार ? जानिए इसे रोकने के सटीक उपाय

सोते समय क्यों गिरती है मुंह से लार ? जानिए इसे रोकने के सटीक उपाय

बहुत से लोगों का सवाल होता है कि रात को सोते समय मुंह से लार क्यों गिरती है? इसपर डॉक्टरों का कहना होता है कि लार बहने की समस्या को Sialorrhea कहते हैं, जो मुख्य रूप से उन शिशुओं में होती है जिनके दांत निकल रहे होते हैं. इसके अलावा ये समस्या उन बच्चों को भी होती है जिन्हे मांसपेशियों और तंत्रिका से संबंधित कोई परेशानी होती है. सोते समय क्यों गिरती है मुंह से लार ?, तो जान लीजिए इसके होने के कारण और इसे रोकने के उपाय.

सोते समय क्यों गिरती है मुंह से लार ?

1. शरीर में लार बनाने वाले बहुत से ग्लैंड्स पाये जाते हैं और जागते समय की तुलना में सोते समय ये ग्लैंड्स ज्यादा लार बनाते हैं. जब हम जगे होते हैं और लार बहती नहीं क्योंकि हम उसे निगल लेते हैं लेकिन सोते समय जब हम गहरी नींद में होते हैं तो शरीर के सभी अंग आराम की अवस्था में होते हैं और हमारी इंद्रियां लार को निगलना भूल जाती हैं जिसके कारण मुंह से लार बहने लगती है.

2. सोते समय ज्यादा लार तब बहती है जब हम करवट लेकर सोते हैं या फिर पेट के बल सो रहे होते हैं. पीठ के बल सोने से लार बहुत ही कम बहती है इसका कारण ये है कि पीठ के बल सोने पर लार अपने आप गले से होकर निगल जाती है. जबकि करवट लेकर और पेट के बल सोने पर ऐसा नहीं हो पाता है.

3. सोते समय मुंह से लार बहने के कई कारणों में से एक ये भी है की कई बार हम कुछ ऐसी चीजें खा लेते हैं जिसकी वजह से एलर्जी हो जाती है या फिर कुच ऐसी दवाईयां भी होती हैं जिसकी वजह से मुंह में लार का निर्माण होने लगता है. इस कारण से सोते समय मुंह से लार गिरती है और हम चाह कर भी नहीं रोक पाते.

4. कुछ वैज्ञानिकों के द्वारा स्टडी में पाया गया है कि पेट में एसिडिटी या पेट से संबंधी कई तरह की बीमारी भी मुंह में लार का निर्माण करती हैं. अब ये लार जगते समय कम और सोते समय मुंह के द्वारा निकलती हैं, जिसपर हमारा कोई बस नहीं होता.

5. साइनस एक तरह की श्वास संबंधी बीमारी होती है जो ऊपरी श्वास नालिका में पाई जाती है. इसके कारण ही व्यक्ति को सांस लेने में परेशानी होती है. इस बीमारी के होने से व्यक्ति सोते समय मुंह से लार निकालता है क्योंकि इस दौरान सांस लेने के कारण लार जमा होने लगती है और सोते समय वो बहती है. इसके अलावा फ्लू होने पर नाक बंद होने के कारण जब हम मुंह से सांस लेते हैं तो ऐसे में अक्सर मुंह से लार बहने लगती है।

सोते समय मुंह से लार ना गिरे इसके उपाय

1. अगर किसी व्यक्ति से मुंह से सोते समय लार बहती है तो उन्हें देर से पचने वाले खाने से बचना चाहिए जिससे उनका पेट साफ रहे. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए उऩ्हें रोज 2 से 3 तुलसी के पत्तों को चबाकर और पानी पीना चाहिए.

2. सोते समय लार बहने की समस्या को रोकने के लिए आपको पानी में फिटकरी घोलकर उससे कुल्ला करना चाहिए, ऐसा करने से आपकी समस्या दूर हो जाएगी.

3. लार बहने की समस्या होने पर दालचीनी की चाय पीने से भी दूर हो सकती है. जिसके लिए दालचीनी को पानी में डालकर अच्छे से उबालें और उसे छानकर शहद में डालकर पी लें.

4. सोते समय मुंह से लार बहने की समस्या होने पर खाने के तुरंत बाद गुनगुने पानी में आंवले का पाउडर मिलाकर एसिडिटी में राहत मिलेगी और लार गिरने की समस्या दूर होगी .

5. लार गिरने की समस्या को दूर करने के लिए 500 मिली. पानी में 125 ग्राम सुहागा डालकर गरारे करने से भी दूर होती है. कुल्ला करने के साथ ही उसका गरारा भी करिए ये समस्या दूर हो जाएगी.

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *