आंखों के काले घेरे दूर कर सकते हैं ये 10 आसान घरेलू उपाय - HEALTH IS WEALTH
आंखों के काले घेरे दूर कर सकते हैं ये 10 आसान घरेलू उपाय

आंखों के काले घेरे दूर कर सकते हैं ये 10 आसान घरेलू उपाय

आजकल की तेज और भागदौड़ भरी जिंदगी की अपनी चुनौतियां हैं। इन चुनौतियों की तेज स्पीड को मेंटेन करने के लिए इंसान कंप्यूटर या लैपटॉप के सामने बैठकर 10 से 12 घंटे तक काम करता है। 

ये लाइफस्टाइल इंसान को अच्छी सुख-सुविधाएं तो देती है लेकिन इस लाइफस्टाइल के भी अपने कई चैलेंज हैं। 

असल में डेस्क जॉब करने वाले ज्यादातर लोग आजकल आंखों के चारों तरफ काले घेरे होने की समस्या से परेशान हैं। काले घेरे या डार्क सर्कल किसी के लिए भी खतरे की घंटी हो सकते हैं। 

डार्क सर्कल का मतलब है कि आंखें और उसके आसपास की मांसपेशियां कमजोर हो रही हैं। 

डार्क सर्कल होना वैसे तो अकेले किसी बीमारी का संकेत नहीं देते हैं लेकिन भविष्य में हो सकने वाली बीमारियों की ओर इशारा जरूर करते हैं। ज्यादातर लोगों के पास इतना वक्त नहीं होता है कि सिर्फ डार्क सर्कल के लिए झंझट भरे उपायों को अपना सकें। 

इसीलिए इस आर्टिकल में मैं डेस्क जॉब करने वालों के डार्क सर्कल हटाने के 10 आसान घरेलू उपायों के बारे में जानकारी दूंगा। इन उपायों को अपनाकर आसानी से डार्क सर्कल की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। 

किन्हें हो सकती है डार्क सर्कल की समस्या 

डार्क सर्कल की समस्या वैसे तो किसी को भी हो सकती है, लेकिन इस समस्या से जो लोग सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं, उनमें :

  1. बड़ी उम्र वाले लोग
  2. वंशानुगत समस्या
  3. ज्यादा देर तक काम करने वाले

लोग शामिल हैं।  

डार्क सर्कल के ज्यादातर मामलों में डॉक्टरी मदद की जरुरत नहीं होती है। 

डार्क सर्कल होने के कारण क्या हैं?

वैसे तो आंखों के नीचे काले घेरे होने के कई कारण हो सकते हैं। लेकिन कुछ सामान्य कारणों में निम्नलिखित कारण भी शामिल हैं। जैसे,

1. थकान

जरुरत से ज्यादा सोना, बहुत ज्यादा थकान या फिर अपने सोने के सामान्य वक्त से ज्यादा देर तक जागते रहने के कारण भी डार्क सर्कल की समस्या हो सकती है। 

सोने की कमी के कारण आंखों के चारों ओर की स्किन कमजोर और ढीली पड़ जाती है। इसकी वजह से स्किन के नीचे मौजूद रक्त नलिकाएं और डार्क टिश्यू मिलकर काले घेरे जैसे बना देते हैं। 

सोने की कमी के कारण भी आंखों के नीचे फ्लूयिड जैसा बनने लगता है। इसके कारण आंखों के नीचे की स्किन फूली हुई दिखने लगती है। नतीजतन कई बार जो डार्क सर्कल आप देखते हैं असल में वह आपकी आंखों की फूली हुई पलकों की छाया भर होती है।

2. उम्र

प्राकृतिक रूप से उम्र बढ़ना भी आंखों के नीचे बनने वाले डार्क सर्कल का सामान्य कारण हो सकती है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, आपकी स्किन पतली होती चली जाती है। 

स्किन में खिंचाव बरकरार रखने वाले फैट और कोलोन भी कम होते-होते खत्म हो जाते हैं। जैसे ही ये खत्म होते हैं, त्वचा के नीचे मौजूद नसों का रंग गहरा होने लगता है। 

पतली हो चुकी स्किन के नीचे की नसें बाहर से दिखने लगती हैं और आंखों के आसपास की त्वचा का रंग गहरा दिखने लगता है। 

3. आंखों की थकान

ज्यादा देर तक टीवी देखने या फिर कंप्यूटर स्क्रीन के सामने बैठने से आंखें थक जाती हैं। इसी थकान के कारण आंखों के आसपास की नसें फैल जाती हैं। नतीजे के तौर पर आंखों के आसपास की स्किन का कलर डार्क दिखने लगता है।

4. एलर्जी

कई बार एलर्जी से होने वाले रिएक्शन और आंखों की ड्राईनेस के कारण भी डार्क सर्कल बढ़ने लगते हैं। शरीर का बचाव तंत्र नुकसान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया से निपटने के लिए हिस्टामाइंस (histamines) रिलीज करता है। 

हिस्टामाइंस के कारण नसें फैल जाती हैं और उनका रंग गहरा हो जाता है। इसके अलावा वह स्किन के नीचे से और ज्यादा दिखने लगती है। एलर्जी के अलावा खुजली, लाल चकत्ते पड़ने और आंखों की सूजन पर भी शरीर हिस्टामाइंस को सक्रिय कर सकता है। 

एलर्जी के कारण कई बार आंखों की स्किन के आसपास खुजली करने का आपका मन कर सकता है। इसकी वजह से लक्षण और जलन कई बार बढ़ जाती है। सूजन और नसों में टूटन की समस्या भी हो सकती है। इसकी वजह से भी आंखों के चारों तरफ काले घेरे हो सकते हैं। 

5. पानी की कम

शरीर में पानी की कमी के कारण आंखों के नीचे काले सर्कल बनना आम बात है। जब शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिलता है, तो आंखों के नीचे की स्किन बेजान और सूखी दिखने लगती है। ऐसा आंखों की हड्डियों के स्किन के करीब होने की वजह से भी होती है। 

6. धूप में रहने से

धूप में ज्यादा देर तक रहने से शरीर ज्यादा मात्रा में मेलानिन (melanin) का उत्पादन करता है। मेलानिन वह तत्व है जो स्किन को उसका रंग प्रदान करता है। जरुरत से ज्यादा देर तक धूप में रहने से खासतौर पर आंखों के चारों तरफ की त्वचा का रंग गहरा हो सकता है।

7. जेनेटिक्स/वंशानुगत

अगर परिवार में किसी को डार्क सर्कल की समस्या रही हो तो आपको भी ये समस्या हो सकती है। ये लक्षण कुछ लोगों में बचपन से ही दिखने लगते हैं। वहीं कई बार उम्र बढ़ने के साथ या तो ये और बढ़ने लगते हैं या फिर कम होने लगते हैं।

8. अन्य बीमारियों के कारण

कई बार कुछ बीमारियों जैसे थायरॉयड के कारण भी आंखों के चारों तरफ डार्क सर्कल बन जाते हैं। कुछ दवाओं के सेवन के कारण भी ये समस्या हो सकती है।

डार्क सर्कल दूर करने के घरेलू उपाय

1. टमाटर और नींबू 

टमाटर डार्क सर्कल को कम करने के साथ ही त्वचा को भी कोमल बनाते हैं। आप एक चम्मच टमाटर का जूस लीजिए, उसमें एक चम्मच नींबू मिलाइए और फिर इस मिक्सचर को आंखों पर लगाइए। 

इसे 10 मिनट तक लगा रहने दीजिए और फिर धो लीजिए। ये उपाय दिन में दो बार करने पर डार्क सर्कल धीरे-धीरे कम होने लगते हैं।

2. आलू का रस

आलू डार्क सर्कल की समस्या को दूर करने का रामबाण उपाय है। कच्चे आलू का जूस निकाल लीजिए। थोड़ी सी रुई को आलू के जूस में भिगोकर आंखों पर रखिए। 

ध्यान रहे कि रुई उस पूरे हिस्से पर होनी चाहिए, जितना हिस्सा काला है। एक हफ्ते के अंदर आपको असर दिखने लगेगा। 

3. टी-बैग

टी-बैग की मदद से भी आप डार्क सर्कल्स से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए ग्रीन टी का बैग बेहतर होता है। ग्रीन टी के बैग को इस्तेमाल करने के बाद फ्रिज में रख दें।

जब ये टी-बैग पूरी तरह से ठंडा हो जाए, तो इन्हें आंखों पर रखिए। ये प्रोसेस जब चाहें तब की जा सकती है। 

4. बादाम का तेल 

बादाम में काफी मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है। बादाम का तेल स्किन को सॉफ्ट बनाने में भी मदद करता है। डार्क सर्कल्स के लिए रात थोड़ा सा बादाम का तेल लेकर आंखों के आसपास लगाएं। 

हल्के हाथों से मसाज करें और सो जाएं। सुबह उठकर आंखों को ठंडे पानी से अच्छे से धो डालें। हफ्ते भर में असर दिखने लगेगा। 

5. ठंडा दूध

ठंडे दूध के लगातार इस्तेमाल से न सिर्फ आप डार्क सर्कल्स खत्म कर सकते हैं, बल्कि अपनी आंखें भी बेहतर कर सकते हैं। आपको करना यह है कि रुई को कटोरी में रखे ठंडे दूध में डुबोना है और फिर उसे डार्क सर्कल्स वाली जगह रखना है। 

ध्यान रहे कि डार्क सर्कल वाला पूरा एरिया ढका हो। 10 मिनट तक रुई रखे रहें और फिर सादे पानी से आंखें धो लें। 

6. संतरे का जूस 

संतरे का जूस डार्क सर्कल्स हटाने में भी मदद कर सकता है। संतरे के जूस में कुछ बूंद ग्लिसरीन की मिला लें। इस मिश्रण को डार्क सर्कल्स के ऊपर लगाएं। धीरे-धीरे डार्क सर्कल्स खत्म होते जाएंगे और आंखों में नेचुरल चमक भी बढ़ने लगेगी। 

7. खीरा 

आपने टीवी पर या ब्यूटी पार्लर में देखा होगा कि लोगों की आंखों पर खीरे की स्लाइस रखी होती हैं। वह सिर्फ फैशन के लिए नहीं रखा जाता है। खीरे का आंखों की सेहत से सीधा रिश्ता है। 

इसके लिए आपको खीरे को आधे घंटे तक फ्रिज में रखना होगा और फिर उनकी स्लाइस काटकर आंखों पर रखनी होंगी। इन स्लाइसेस को 10 मिनट तक आंखों पर रखा रहने दें और फिर आंखें धो लें। आप फ्रेश महसूस करेंगे और कुछ दिनों में डार्क सर्कल्स भी कम होने लगेंगे। 

8. पुदीने की पत्तियां 

पुदीना का इस्तेमाल डार्क सर्कल्स से निपटने के लिए भी किया जा सकता है। पुदीने की कुछ पत्तियों को पीसकर उसमें पानी मिलाकर एक पेस्ट बना लें। 

इस पेस्ट को डार्क सर्कल पर लगाएं। 10 मिनट तक लगाए रखें फिर ठंडे पानी से धो दें। इसे रोज रात में लगाएंगे, तो हफ्तेभर में फर्क दिखने लगेगा। 

9. गुलाब जल 

स्किन केयर में गुलाब जल का कोई जोड़ नहीं है। गुलाब जल को आप क्लींजिंग और डार्क सर्कल मिटाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। रुई को गुलाबजल में भिगोकर डार्क सर्कल पर रखिए। 

15 मिनट रुई को आंखों पर रखे रहें और फिर ठंडे पानी से आंखें धो लीजिए। एक महीने तक लगातार यह प्रॉसेस करने पर असर दिखने लगेगा। 

10. छाछ और हल्दी 

हल्दी एंटी-बायोटिक होती है, जिसे सब्ज़ी में डालने के अलावा दूध में डालकर पिया जा सकता है और चोट पर भी लगाया जा सकता है। वहीं खाने के बाद छाछ को सबसे बढ़िया माना गया है। 

आप दो चम्मच छाछ लीजिए और उसमें चम्मच भर हल्दी मिला दीजिए। फिर इस पेस्ट को डार्क सर्कल पर लगाइए और 10 मिनट तक लगा रहने दीजिए। इसके बाद गर्म पानी से आंखें धो लीजिए।

source : mensxp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *