चने की दाल खाने से दूर हो जाती हैं ये घातक बीमारियां - HEALTH IS WEALTH
चने की दाल खाने से दूर हो जाती हैं ये घातक बीमारियां

चने की दाल खाने से दूर हो जाती हैं ये घातक बीमारियां

चने की दाल काफी लाभदायक होती है और चने की दाल खाने से कई बीमारियां शरीर से दूर रहती है। चने की दाल के अंदर फाइबर और प्रोटीन काफी अधिक मात्रा में पाए जाते हैं और ये दोनों तत्व सेहत के लिए काफी गुणकारी माने जाते हैं। चने की दाल को खाने से कौन-कौने से लाभ शरीर को मिलते हैं इसकी जानकारी इस प्रकार है।

चने की दाल के साथ जुड़े लाभ

कोलेस्ट्रॉल हो कम

चने की दाल खाने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रहता है और दिल हमेशा सेहतमंद बना रहता है। इतना ही नहीं जो लोग नियमित रूप से चने की दाल का सेवन करते हैं उन लोगों को दिल से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है।

पेट रहे हमेशा सही

फाइबर युक्त खाना खाने से पेट पर अच्छा असर पड़ता है। इसलिए जिन लोगों को गैस और अपच की समस्या से रहती है वो दाल का सेवन करें। दरअसल फाइबर वाले खाने को पेट के लिए सबसे उत्तम माना जाता है और जो लोग फाइबर युक्त खाने का सेवन करते हैं उनका पेट हमेशा फीट रहता है।

शरीर को ऊर्जा दे

जो लोग जल्द थक जाते हैं या हर वक्त कमजोरी महसूस करते हैं वो लोग चने की दाल का सेवन जरूर करें। चने की दाल खाने से शरीर को ऊर्जा मिलती है और शरीर आसानी से नहीं थकता है। दरअसल चने की दाल के अंदर जिंक, कैल्श‍ियम, प्रोटीन, फोलेट जैसे तत्व भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं और ये सभी तत्व शरीर को ऊर्जा देने का कार्य करते हैं। इसलिए आप हफ्ते में कम से कम दो बार चने की दाल का सेवन करना चाहिए।

पीलिया की बीमारी में लाभदायक

पीलिया के मरीजों के लिए चने की दाल को काफी लाभदायक माना जाता है और इसका सेवन करने से पीलिया की बीमारियां से उबरने में मदद मिलती है। जो लोग पीलिया की बीमारी से ग्रस्त हैं वो लोग रोज एक कटोरी चेन की दाल उबालकर पीएं। इस दाल का सेवन करने बेहद ही फायदेमंद होगा।

खून की कमी हो पूरी

शरीर में खून की कमी होने पर आप चने की दाल का सेवन करना शुरू कर दें। चने की दाल का सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी पूरी हो जाती है और ऐसा होने पर खून का स्तर सही हो जाता है।

कोशिकाएं हो मजबूत

चने की दाल का सेवन करने से कोशिकाओं की मजबूती मिलती है। चने की दाल में अमीनो एसिड पाया जाता है और अमीनो एसिड शरीर की कोशिकाओं को मजबूत करने में मददगार साबित होता है।

डाइबिटीज नियंत्रण में रहे

डाइबिटीज के मरीजों के लिए चने की दाल बेहद ही फायमेंद होती है और चने की दाल को खाने से शरीर में ग्लूकोज का स्तर सही बना रहता है। दरअसल चने की दाल ग्लूकोज को अवशोषित करने में काफी सहायक होती है।

चेहरे को निखारे

चने का पेस्ट चेहरे पर लगाने से त्वचा में निखार जा आ जाता है। आप चने की दाल लेकर उसे पीस लें और इसके अंदर दही डालकर एक मिश्रण तैयार कर लें। फिर आप इस पेस्ट को चेहरे पर लगा लें। ये पेस्ट चेहरे पर लगाने से चेहरे मुलायम हो जाएगा।

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *