वायरल फीवर को जड़ से खत्म करें प्याज का पानी, जाने इसके बेमिसाल फायदे - HEALTH IS WEALTH
वायरल फीवर को जड़ से खत्म करें प्याज का पानी, जाने इसके बेमिसाल फायदे

वायरल फीवर को जड़ से खत्म करें प्याज का पानी, जाने इसके बेमिसाल फायदे

बदलते मौसम में वायरल बुखार, खांसी और जुकाम होने का खतरा काफी अधिक बढ़ जाता है और बच्चों को ये बीमारियां आसानी से लग जाती है। शरीर का इम्यूनिटी लेवल कमजोर होने पर किसी को भी वायरल बुखार हो सकता है। हालांकि बुखार, खांसी और जुकाम होने पर अगर प्याज का प्रयोग किया जाए तो ये तुरंत सही हो जाते हैं। जी हां, प्याज की मदद से आसानी से इन रोगों को सही किया जा सकता है और कफ जैसी समस्या से भी निजात पाई जा सकती है। ये बीमारी लगने पर आप बस प्याज का पानी पी लें। ये पानी पीते ही शरीर में ऊर्जा का स्तर एकदम से बढ़ जाएगा और खांसी, जुकाम, कफ और बुखार तुरंत सही हो जाएंगे।

ऐसे तैयार करें प्याज का पानी

प्याज का पानी तैयार करना बेहद ही आसान है। आपको ये पानी तैयार करने के लिए एक प्याज और पीने के पानी की जरूरत पड़ेगी। आप प्याज को लेकर उसे बारीक टुकड़ों में काट दें। फिर एक कटोरी के अंदर इन्हें डाल दें। इसके बाद आप इस कटोरी के अंदर पानी भर दें। इस कोटरी को आप 8 घंटे तक ऐसे ही रहने दें। 8 घंटे पूरे हो जाने के बाद आप दिन में 3 बार 3 चम्मच इस पानी के पीएं।

मिला सकते हैं शहद

इस पानी का स्वाद अगर आपको पसंद ना आए तो आप इसमें शहद भी मिला सकते हैं। शहद मिलाने से ना केवल इस पानी का स्वाद अच्छा हो जाएगा बल्कि खांसी एकदम दूर हो जाएगी। दरअसल शहद को सूखी खांसी के लिए रामबाण इलाज माना जाता है और इसे खाने से खांसी दूर हो जाती है।

बच्चों को ना दें अधिक पानी

प्याज का पानी आप बच्चों को पीने के लिए अधिक ना लें। आप बच्चों को दिन में दो बार ही ये पानी पीने को दें। बच्चों के अलावा गर्भवती महिलाएं भी इस पानी को अधिक ना पीएं।

जानें प्याज के पानी के गुण

  • प्याज के पानी को बेहद ही गुणकारी माना जाता है क्योंकि इसके अंदर  एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व पाएं जाते हैं जो कि शरीर की रक्षा ठंड से करते हैं।
  • इसके अलावा प्याज के अंदर  एंटीमाइक्रोबियल तत्व होते भी पाए जाते हैं जो कि कफ को खत्म करना का कार्य करते हैं। प्याज का पानी या इसका रस पीने से कफ की समस्या सही हो जाती है।
  • जो लोग हफ्ते में तीन बार प्याज के पानी को पीते हैं उन लोगों का इम्यूनटी सिस्टम सही बना रहता है और उनको रोग लगने का खतरा भी कम हो जाता है।
  • प्याज का रस पीने से फेफेड़ों से टॉक्सिन्स बाहर हो जाते है और फेफेड़ों से संबंधित रोग भी नहीं होते हैं।
  • प्याज के अंदर थायोसल्फेट, सल्फाइड और सल्फोक्साइड गुण भी पाए जाते हैं और ये तत्व कई लोगों को शरीर से दूर रखते हैं।

प्याज के पानी के गुण जानने के बाद आप इसका सेवन जरूर करें। बदलते मौसम में ये पानी पीने से आपकी रक्षा वायरल फीवर, जुकाम, खांसी जैसे रोगों से होगी। वहीं अगर आप प्याज का पानी नहीं पीना चाहते हैं तो आप इसकी जगह प्याज का रस भी पी सकते हैं।

source : newstrend

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *