त्‍वचा पर ऊभरी हुई गांठें लिपोमा का है संकेत, जानें क्‍या हैं इसके खतरे और उपचार - HEALTH IS WEALTH
त्‍वचा पर ऊभरी हुई गांठें लिपोमा का है संकेत, जानें क्‍या हैं इसके खतरे और उपचार

त्‍वचा पर ऊभरी हुई गांठें लिपोमा का है संकेत, जानें क्‍या हैं इसके खतरे और उपचार

लिपोमा एक धीमी गति से बढ़ने वाली, वसायुक्त गांठ है जो अक्सर आपकी त्वचा और मांसपेशियों (अंदरूनी) की परत के बीच स्थित होती है। एक लिपोमा, जो फूला हुआ महसूस करता है और आमतौर पर यह मुलायम नहीं होती है, उंगली के हल्‍के से दबाव के साथ आसानी से पता चल जाती है। आमतौर पर मिडिल एज  यानी 45 से 55 साल की उम्र में इसके होने का पता चलता है। कुछ लोगों में एक से अधिक लिपोमा होते हैं।

लिपोमा कोई कैंसर नहीं है और आमतौर पर हानिरहित है। इसका उपचार भी आमतौर पर आवश्यक नहीं है, लेकिन यदि लिपोमा आपको परेशान करता है, दर्दनाक है या बढ़ रहा है, तो आप इसे हटा सकते हैं।

लिपोमा के लक्षण

लिपोमा शरीर में कहीं भी हो सकता है। वे आम तौर पर हैं:

  • यह सिर्फ त्वचा के नीचे स्थित होते हैं: वे आम तौर पर गर्दन, कंधे, पीठ, पेट, हाथ और जांघों में होते हैं।
  • छूने पर नरम लगते हैं: वे उंगली के दबाव से भी आसानी से इधर-उधर चलते हैं।
  • आमतौर पर यह छोटे होते हैं: लिपोमा आमतौर पर व्यास में 2 इंच (5 सेंटीमीटर) से कम होता है, लेकिन वे बढ़ सकते हैं।
  • लिपोमा दर्दनाक हो सकता है: अगर वे बढ़ते हैं और पास की नसों पर दबाते हैं या यदि उनमें कई रक्त वाहिकाएं होती हैं, तो यह दर्दनाक भी हो सकते हैं। 

लिपोमा के कारण

लिपोमा का कारण पूरी तरह से समझा नहीं गया है। ये परिवारों में एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में चलते रहते हैं, इसलिए आनुवांशिक कारक उनके विकास में भूमिका निभाते हैं।

लिपोमा के जोखिम

कई कारकों में लिपोमा विकसित होने का खतरा बढ़ सकता है, जिसमें शामिल हैं:

ये आमतौर पर 40 से 60 साल के बीच होते हैं, यद्यपि लिपोमा किसी भी उम्र में हो सकता है, वे इस आयु वर्ग में सबसे आम हैं। इसके अलावा ये फैमिली में चलते रहते हैं।

डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए? 

लिपोमा शायद ही कभी एक गंभीर चिकित्सा स्थिति है। लेकिन अगर आपको अपने शरीर पर कहीं भी गांठ या सूजन दिखाई देती है, तो आपको अपने डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए।

लिपोमा का इलाज

आमतौर पर लिपोमा के लिए कोई उपचार आवश्यक नहीं है। हालांकि, यदि लिपोमा आपको परेशान करता है, दर्दनाक है या बढ़ रहा है, तो आपका डॉक्टर सिफारिश कर सकता है कि इसे हटा दिया जाए। लिपोमा उपचार में शामिल हैं:

  • सर्जरी कर निकालना: अधिकांश लिपोमा को शल्यचिकित्सा से काटकर निकाल दिया जाता है। हटाने के बाद इसकी पुनरावृत्ति आवर्ती असामान्य हैं। संभावित दुष्प्रभाव जख्म और घाव हैं। 
  • लिपोसक्शन: यह उपचार वसायुक्त गांठ को हटाने के लिए एक सुई और एक बड़े सिरिंज का उपयोग करता है।

source : onlymyhealth

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *